Whats new
Shopping Cart: Rs 0.00

You have no items in your shopping cart.

Subtotal: Rs 0.00

Welcome to www.allauddin.co.in

Allauddin

सानिया मिर्जा बनेंगी खेल रत्न

sania  

नई दिल्ली. आखिरकार सानिया मिर्जा को देश के सर्वोच्च खेल सम्मान राजीव गांधी खेल रत्न दिए जाने का रास्ता साफ हो गया है. केरल हाईकोर्ट के सेवानिवृत चीफ जस्टिस वीके बाली की 12 सदस्यीय कमेटी ने मंगलवार को इस अवार्ड के लिए उनके नाम की सिफारिश कर दी. यही नहीं इस बार 15 के बजाय 17 खिलाड़ियों को अर्जुन अवॉर्ड दिए जाने की सिफारिश की गई है. खास बात यह रही कि दो-दो खिलाड़ियों को अर्जुन अवार्ड दिए जाने की लड़ाई में हॉकी को कबड्डी के हाथों हार का सामना करना पड़ा. वोटिंग के जरिए यह फैसला करना पड़ा कि कबड्डी और हॉकी में से किसी एक खिलाड़ी का नाम अर्जुन अवार्ड के नामों की सूची से हटाया जाए. वोटिंग में चार के मुकाबले पांच वोटों से हॉकी को हारना पड़ा, जिसके चलते महिला टीम की कप्तान रितु रानी का नाम सूची से हटाना पड़ा. 17 नामों का चयन करने के बाद कमेटी ने छानबीन में पाया कि कॉमनवेल्थ गेम्स गोल्ड मेडलिस्ट सतीश शिवालिंगम का नाम रह गया है. कमेटी ने कहा कि 18 नामों की सिफारिश कर दी जाए, लेकिन चेयरमैन ने कहा कि अब नाम और नहीं बढ़ाए जा सकते हैं. कबड्डी के लिए मंजीत छिल्लर का नाम आगे आया, लेकिन चेयरमैन ने कहा कि महिला खिलाड़ी अभिलाषा महात्रे के अंक ज्यादा बन रहे हैं. इसके बाद दोनों नामों की सिफारिश की गई. सानिया को मिली पल्लीकल गिरीशा से कड़ी टक्कर
मंत्रालय ने भले ही सानिया के नाम की सिफारिश विंबलडन की सफलता के बाद की हो, लेकिन उनके नाम की सिफारिश आसानी से नहीं हुई. चेयरमैन बाली दीपिका पल्लीकल के पक्ष में थे, लेकिन कमेटी सदस्यों ने सानिया का पक्ष लिया. पैरालंपियन गिरीराज सिंह ने लंदन पैरालंपिक में रजत जीतने वाले एचएन गिरीशा के लिए जमकर बहस की. अंत में सानिया पर ही फैसला हुआ. खास बात यह रही कि मंत्रालय ने आवेदन की तिथि 30 अप्रैल निकलने के बाद सानिया के नाम का आवेदन आईटा से कराया. लेकिन अवाॅर्ड के लिए उनके नाम की सिफारिश इंचियोन एशियाई खेलों के गोल्ड के अलावा 2012, 14 में जीते गए फ्रेंच, यूएस ओपन मिक्स डबल्स खिताब के लिए दिया गया है. साल 2014-15 के अवाॅर्ड होने के चलते उनके विंबलडन डबल्स खिताब और वर्ल्ड नंबर वन पर चर्चा नहीं हुई. ऐसे में यह भी कहा गया कि सानिया इसके लिए पहले ही आवेदन कर सकती थीं.
लिएंडर पेस के बाद देश का सर्वोच्च खेल सम्मान पाने वाली टेनिस की दूसरी खिलाड़ी बनेंगी
सीमा पूनिया के खिलाफ गई डोप रिपोर्ट
वाह... टोरंटो में सुबह अपने देश से अद्भुत खबर मिली. सबका बहुत-बहुत शुक्रिया. - सानिया मिर्जा (ट्विटर पर)
इंचियोन एशियाई खेलों की गोल्ड मेडलिस्ट सीमा पूनिया के खिलाफ 2001 की जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप में डोप का मामला गया. कमेटी सदस्यों ने कहा कि पिछली बार रंजीत महेश्वरी से यह अवाॅर्ड छीन लिया गया था ऐसे में सीमा के नाम की सिफारिश नहीं की जा सकती है. नाडा की रिपोर्ट पर यह कार्रवाई की गई. अवाॅर्ड नहीं पाने वालों में वर्ल्ड चैंपियनशिप के रजत विजेता पहलवान अमित , शूटर पननजप्पा, कॉमनवेल्थ गेम्स मेडलिस्ट राही सरनोबात, गोल्फर एसएसपी चौरसिया रहे.
इन्हें मिलेगा अर्जुन अवॉर्ड
कबड्डी के चलते अर्जुन अवार्ड को 15 के बजाय 17 के नाम की सिफारिश
मंदीप जांगड़ा-बॉक्सिंग
बबिता और बजरंग-कुश्ती
जीतू राय-शूटिंग
एम. छिल्लर, अभिलाषा महात्रे-कबड्डी
स्वर्ण सिंह विर्क-रोइंग
संदीप कुमार-तीरंदाजी
एमआर पूवम्मा-एथलेटिक्स
रोहित शर्मा-क्रिकेट
दीपा कर्माकर-जिम्नास्टिक्स
पीआर श्रीजेश-हॉकी
वाई सनाथोई देवी-वूशु
शरत गायकवाड़-पैरा स्वीमिंग
सतीश शिवालिंगम-वेटलिफ्टिंग
अनूप कुमार यामा-रोलर स्केटिंग
के श्रीकांत-बैडमिंटन