Whats new

सेंसेक्स 1625 प्वाइंट गिरा, तीसरी बड़ी गिरावट से इन्वेस्टर्स के 7 लाख करोड़ डूबे

Sensex-Crash  

मुंबई. चीन के असर के कारण देश के शेयर बाजारों में इतिहास की तीसरी सबसे बड़ी गिरावट देखी गई. बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का बेंचमार्क इंडेक्स सेंसेक्स 1,624.51 प्वाइंट गिर गया. ट्रेडिंग के दौरान यह एक बार तो 25,700 के साइकोलॉजिकल लेवल को तोड़कर 25,625 पर आ गया. बाद में थोड़ा संभलकर 25,741.56 पर बंद हुआ. यह भी पढ़ें: अमेरिकी मार्केट में भी भूचाल, ऐपल,गूगल, फेसबुक सहित तमाम दिग्गज शेयर टूटे नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का इंडेक्स निफ्टी भी 491 प्वाइंट गिरकर 7809 पर बंद हुआ. सेंसेक्स और निफ्टी में करीब 6% की गिरावट देखी गई. 2008 के 7 साल बाद आई इस गिरावट से इन्वेस्टर्स के 7 लाख करोड़ रुपए डूब गए. वहीं, बीएससई का मार्केट कैप भी 102 लाख करोड़ रुपए से कम होकर 95 लाख करोड़ पर आ गया.

सरकार का भरोसा नहीं आया काम
लगातार गिरावट से घबराई सरकार ने दिन भर बयान देकर कोशिश की शेयर बाजार में गिरावट का दौर खत्म हो जाए. इसके बावजूद उनके बयानों का कोई असर नहीं हुआ है. सबसे पहले आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन ने इकोनॉमी की मजबूती का हवाला दिया, उसका कोई असर न होता देख, वित्त राज्य मंत्री जयंत सिन्हा और बाद में देर शाम वित्त मंत्री अरूण जेटली ने भी यह भरोसा दिलाने की कोशिश की है कि इन्वेस्टर को घबड़ाने की जरूरत नहीं है. भारतीय इकोनॉमी के फंडामेंटल मजबूत हैं.