Whats new

जून तिमाही में सिर्फ 8.6% बढ़ा बैंक कर्ज

rbi  

तमाम कोशिशों के बावजूद बैंक कर्ज में तेजी नहीं रही है. जून तिमाही में तो इसमें सिर्फ 8.6% इजाफा हुआ है. पिछले साल इस तिमाही को बैंक कर्ज 12.9% बढ़ा था. बैंकों में जमा बढ़ने की रफ्तार भी घटी है. यह 11.9% से कम होकर 10.6% पर गई है. रिजर्व बैंक की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक कुल जमा में 72.5% हिस्सा सरकारी बैंकों में गया. कर्ज में सरकारी बैंकों का हिस्सा 70.4% रहा. जमा और कर्ज, दोनों को जोड़ कर देखें तो बैंकों का 68.3% कारोबार सात राज्यों से आया.
ये राज्य हैं - महाराष्ट्र, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली, तमिलनाडु, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और गुजरात. पूरे बिजनेस में 25.5% हिस्सा सिर्फ महाराष्ट्र का रहा. बैंकों के कुल जमा का 66% इन्हीं सातों राज्यों से आया. कर्ज में इनकी हिस्सेदारी 71.4% रही.
जून तिमाही में कर्ज और जमा का अनुपात 75.8% रहा है. इसमें तमिलनाडु 117.3% के साथ शीर्ष पर है. इसके बाद चंडीगढ़ (110.8%), आंध्र प्रदेश (105.1%), तेलंगाना (103.1%), राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली (95%), महाराष्ट्र (93.3%) और राजस्थान (86.7%) का नंबर है. बाकी राज्यों में यह अनुपात राष्ट्रीय औसत से कम है.