Whats new
Shopping Cart: Rs 0.00

You have no items in your shopping cart.

Subtotal: Rs 0.00

Welcome to www.allauddin.co.in

Allauddin

वर्ल्ड हॉकी लीग : भारत ने नीदरलैंड्स को हरा 33 साल बाद जीता इंटरनेशनल मेडल

hockey

भारत ने वर्ल्ड हॉकी लीग फाइनल्स में कांस्य पदक जीत लिया है । नीदरलैंड्स के साथ मुकाबले में भारत ने जोरदार प्रदर्शन किया और वर्ल्ड रैंकिंग में नंबर दो डच टीम को शूट-आउट में 3-2 से हराकर कांस्य पदक जीता । मैच अपने तय समय में 5-5 की बराबरी पर रहा जिसके बाद शूट-आउट से मैच का फैसला हुआ ।. मुकाबले की शुरूआत में डच टीम वर्ल्ड रैंकिंग में नंबर 6 की टीम इंडिया पर हावी दिखी । 9वें मिनट में नीदरलैंड्स की टीम की ओर से मिक्रो प्रुइज्सर ने गोल किया । इसके बाद 25वें मिनट में निक स्यूट ने एक और गोल दाग कर मैच में 2-0 की बढत ले ली। भारत की ओर से कई बार अटैक हुए, लेकिन कोई गोल में तब्दील नहीं हो सका। रमनदीप सिंह ने तीसरे क्वार्टर में मनप्रीत सिंह के शानदार पास पर गोल बनाया। इसके बाद रूपिंदर पाल सिंह ने पेनल्टी कॉर्नर को गोल में बदल कर मैच को बराबरी पर ला दिया।

चौथे क्वार्टर में रमनदीप ने टूर्नामेंट में अपना दूसरा गोल कर मैच में भारत को 3-2 की बढत दिला दी । हालांकि नीदरलैंड्स की टीम के मार्क वेन डर विर्डेन ने पेनल्टी में गोलकर 3-3 से बराबर कर दिया। रूपिंदर पाल ने एक और गोल कर मैच में भारत को एक बार फिर से बढत दिला दी । भारत की बढत 4-3 की हो गई । मैच खत्म होने से 4 मिनट पहले आकाशदीप सिंह ने एक शानदार गोल बनाया। इस गोल के साथ ही भारतीय टीम ने 5-3 की बढत के साथ ही कांस्य पदक पर नजर टिका लिया। हालांकि आखि़र के कुछ मिनटों में नीदरलैंड्स की टीम ने बढत को कम करने की कोशिश करते रहे और गोल कर मैच बराबरी पर ले गए। इसके बाद मैच के फैसले के लिए शूटआउट का इस्तेमाल किया गया।

· इससे पहले भारत ने 1982 में कोई इंटरनेशनल टूर्नामेंट में मेडल जीता था। · चैम्पियंस ट्रॉफी में पाकिस्तान को 5-4 से हराकर भारत ने आख़िरी इंटरनेशनल मेडल जीता था।
· वर्ल्ड हॉकी लीग के मैच में आख़िरी 5 सेकंड के खेल के दौरान मैच भारत के पक्ष में हुआ।
· रायपुर में हुए HWL 2015 के थर्ड प्लेस का फैसला पेनाल्टी शूट आउट से हुआ। 6 मिनट में 5 गोल हुए।
· शनिवार को इसी टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में भारत बेल्जियम से हार गया था।

15 मिनट में 7 गोल दागे गए
अंतिम 15 मिनट का खेल चरम पर रहा। दोनों टीमें गोल करने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगाने लगे और दोनों टीमों 7 गोल दाग कर स्कोर 5-5 से बराबर कर दिया। · 47वें मिनट में भारत के रुपिंदर पाल ने पेनल्टी कार्नर से गोलकर स्कोर 2-2 बराबर कर दिया |
· 51वें मिनट में दानिश के पास को रमनदीप ने गोलपोस्ट में पहुंचाकर भारत को 3-2 से आगे कर दिया |
· 54वें मिनट में नीदरलैंड्स के मिंक वीडेन ने पेनल्टी कार्नर से गोलकर स्कोर फिर 3-3 से बराबर कर दिया |
· 55वें मिनट मेें भारत के रुपिंदर ने पेनल्ट्री स्ट्रोक्स से अपना दूसरा गोल कर फिर 4-3 से आगे कर दिया।
· 56वें मिनट में भारत के कप्तान सरदार सिंह के पास को आकाशदीप ने गोलपोस्ट में पहुंचाकर बढ़त 5-3 कर जीत की चमक दिखा दी, लेकिन नीदरलैंड्स ने अंतिम समय में दो पेनल्टी कार्नर में गोल कर दिया।
· 58वें मिनट में नीदरलैंड्स के मिंक विर्डेन ने पेनल्टी स्ट्रोक्स से गोलकर स्कोर 5-4 कर दिया |
· 60वें मिनट में डच टीम के मिंक विर्डेन ने पेनल्टी कॉर्नर से
फिर गोल कर स्कोर 5-5 कर दिया और मैच पेनल्टी शूटआउट में चला गया।

Next >>