Whats new

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने दिलीप कुमार को मुंबई जाकर दिया 'पद्म विभूषण' सम्मान

 DILIP KUMAR

इंडियन सिनेमा के महान नायकों में से एक दिलीप कुमार को मुंबई में 'पद्म विभूषण' से सम्मानित किया गया।. गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने 'ट्रेजेडी किंग' को उनके घर मुंबई जाकर सम्मान दिया।

दिलीप कुमार का मुंबई में 'पद्म विभूषण' सम्मान समारोह
भारत सरकार ने इस सम्मान का ऐलान 25 जनवरी 2015 को किया था। जिसमें दिलीप कुमार और सदी के महानायक अमिताभ बच्चन से लेकर फिल्म जगत की कई हस्तियों के नाम शामिल थे। अप्रैल 2015 को राष्ट्रपति भवन में हुए सम्मान समारोह में एक्टिंग लीजेंड दिलीप कुमार खराब स्वास्थ्य के कारण वहां नहीं पहुंच सके थे। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने मुंबई जाकर 'ट्रेजिडी किंग' को 'पद्म विभूषण' अवॉर्ड देकर सम्मानित किया।

यूसुफ से दिलीप का सफर-
11 दिसंबर 1922 को पेशावर (अब पाकिस्तान) में जन्मे दिलीप कुमार का जन्म के वक्त मोहम्मद यूसुफ नाम रखा गया। 'बॉम्बे टॉकीज' में काम करने के दौरान टॉकीज की मालकीन देविका रानी ने यूसुफ को दिलीप कुमार नाम दिया। यहां से शुरू हुआ दिलीप कुमार का फिल्मी सफर 1940 में 'ज्वार भाटा' फिल्म से डेब्यू करने वाले 'ट्रेजिडी किंग' ने एक से बढ़कर एक फिल्में की, 'मुगल ए आजम' , 'मधुमति', 'देवदास', 'गंगा जमुना', 'क्रांति', दाग और यहूदी जैसी कई फिल्मों में अपनी एक्टिंग का उम्दा प्रदर्शन किया।
दिलीप कुमार को इंडियन सिनेमा में 'दाग' फिल्म के लिए पहला बेस्ट एक्टर फिल्मफेयर अवॉर्ड मिला। उन्हें पाकिस्तान के सबसे बड़े सम्मान निशान ए इम्तियाज से भी नवाजा गया। दिलीप कुमार के नाम पर एक भारतीय एक्टर द्वारा सबसे ज्यादा अवॉर्ड पाने का 'गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड' भी है. इन्हें 'पद्म भूषण' और 'दादा साहब फाल्के' अवार्ड से भी सम्मानित किया जा चुका है।'ट्रेजेडी किंग' ने फिल्मफेयर का लाइफ टाइम अचीवमेंट अवॉर्ड भी हासिल किया है। साल 1966 में दिलीप कुमार ने 22 साल छोटी एक्ट्रेस 'सायरा बानो' से शादी रचाई, दिलीप 93वें साल के हो चुके हैं।

Next >>