Whats new
Shopping Cart: Rs 0.00

You have no items in your shopping cart.

Subtotal: Rs 0.00

Welcome to

Allauddin

12 वें दक्षिण एशियाई खेल-2016 का प्रतीक चिन्ह और शुभंकर गुवाहाटी में जारी किया गया

  mascot

12वें दक्षिण एशियाई खेल-2016 (ओसी-एसएजी) की आयोजन समिति ने दिसंबर 2016 को आईटीए सांस्कृतिक केन्द्र माचखोआ, गुवाहाटी, असम में आयोजित एक समारोह में प्रतीक चिन्ह और शुभंकर का अनावरण कियाI. यह खेल 6 से 16 फरवरी, 2016 तक गुवाहाटी और शिलांग में संयुक्त रूप से आयोजित किए जाएंगेI 12वें दक्षिण एशियाई खेलों में 23 विधाओं में 8 देशों के करीब 4500 खिलाड़ियों और अधिकारियों के शामिल होने की आशा हैI इससे पहले जुलाई 2015 में ओसी-एसएजी ने 12वें एशियाई खेल के प्रतीक चिन्ह और शुभंकर का डिजाइन तैयार करने के लिए प्रतियोगिता आयोजित की थीI यह वर्ष में दो बार होने वाला बहु-खेल कार्यक्रम हैI प्रत्येक श्रेणी की करीब 450 प्रविष्टियों में से प्रतीक चिन्ह और शुभंकर का चयन किया गयाI कोल्हापुर के अनंत खसबरदार और एनआईएफटी पटना के अभिजीत कृष्णा ने क्रमशः शुभंकर और प्रतीक चिन्ह डिजाइन प्रतियोगिता जीतीI

प्रतीक चिन्ह:
प्रतीक चिन्ह में 8 पंखुड़िया हैं, जो 12वें दक्षिण एशियाई खेलों में प्रतिभागी देशों को दर्शाते हैंI यह पंखुड़ियां घड़ी की दिशा में आगे बढ़ती हुई दिखाई देती हैं, जिससे खेल की सकारात्मक भावना प्रदर्शित होती हैI प्रतीक चिन्ह यूरोप में प्राचीन समय के दौरान खेल विजेताओं को सिर पर पहनाए जाने वाले मुकुट के समान दिखती हैI

शुभंकर:
खेलों के शुभंकर का नाम तिखोर रखा गया है, जो 12वें दक्षिण एशियाई खेल 2016 का ब्रांड एम्बेसडर हैI तिखोर को खेल प्रेमी और आधुनिक दर्शाया गया हैI वह सब क्षेत्रों में दक्ष, सक्रिय, ऊर्जावान और बच्चों के बीच लोकप्रिय बताया गया हैI ऐसा दर्शाया गया है कि वह क्षेत्र के खेल प्रेमियों के लिए प्रेरक, मित्र और पारिवारिक हैI

Next >>