Whats new

अरुण खोपकर का ‘साहित्य अकादमी’, तथा श्रीकांत बहुलकर का ‘भाषा सन्मान’ हेतु चयन

  khopkar

साहित्य अकादमी के वार्षिक पुरस्कारों की घोषणा कर दी गई। लेखक अरुण खोपकर की मराठी पुस्तक चलत चित्रव्यूह को वर्ष २०१५ का साहित्य अकादमी पुरस्कार मिलेगा।. इसके लिये देश के २३ प्रादेशिक भाषा के विभिन्न विधाओं की सर्वोत्कृष्ट पुस्तकों का चयन किया गया। चलत चित्रव्यूह संस्मरण विधा की पुस्तक है। कोकणी भाषा में उदय भेंब्रे के कर्ण पर्व इस नाटक को चुना गया है। श्रीकांत बहुलकर को भाषा सन्मान हेतु चुना गया है। शिल्ड, शाल व एक लाख रुपये का धनादेश ये पुरस्कार का स्वरूप है।

अन्य पुरस्कारों में ६ काव्यसंग्रह, ६ कथासंग्रह, ४ कादंबरी, २ निबंध, २ नाटक तथा २ समीक्षा का समावेश है। बंगाली भाषा के लिए पुरस्कारों की घोषणा अगले कुछ दिनों में की जायेंगी।

Next >>