Whats new
Shopping Cart: Rs 0.00

You have no items in your shopping cart.

Subtotal: Rs 0.00

Welcome to

Allauddin

नए साल में गुजरात में लगेंगे 6 न्यूक्लियर रिएक्टर

 reactor

भारत नए साल में पहले छह महीने के अंदर ही अमेरिका की वेस्टिंगहाउस इलेक्ट्रिक कंपनी से न्यूक्लियर रिएक्टर पर 150 बिलियन डॉलर का समझौता कर सकता है. एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी के मुताबिक भारत गुजरात में 6 न्यूक्लियर रिएक्टर लगाने की डील करने जा रहा है. भारत और अमेरिका के बीच 2008 में सिविल न्यूक्लियर डील होने के बाद ये रिएक्टर लगाए जा रहे हैं|

भारत में कुल 60 न्यूक्लियर रिएक्टर लगाए जाने हैं| अगर 60 रिएक्टर का ये लक्ष्य हासिल करने में भारत सफल हो जाता है, तो चीन के बाद न्यूक्लियर एनर्जी मार्केट में भारत दूसरे स्थान पर पहुंच जाएगा| भारत करीब 60 न्यूक्लियर रिएक्टर्स स्थापित करने की दिशा में तेजी से काम कर रहा है. इसका उद्देश्य 2032 तक अपनी न्यूक्लियर पावर क्षमता को 5,780 मेगावॉट से बढ़ाकर 63,000 मेगावॉट करना है|

आपको बता दें कि तोशिबा वेस्टिंगहाउस की पेरेंट कंपनी है| वेस्टिंगहाउस ने कहा है कि न्यूक्लियर डैमेज कंपनसेशन के बारे में फ्रेमवर्क बनाने पर बातचीत चल रही है. समझौते की खबर लीक होते ही तोशिबा के शेयरों में 3 फीसदी से ज्यादा की तेजी देखने को मिली है| गौरतलब है कि साल 2010 में न्यूक्लियर रिएक्टर दुर्घटना पर बने नए कानून के बाद इस क्षेत्र के कारोबारियों के लिए बड़ी संभावनाएं पैदा हुईं हैं. इस कानून के मुताबिक अगर कोई दुर्घटना होती है तो नुकसान की भरपाई रिएक्टर आपूर्तिकर्ता को नहीं करनी होगी|

Next >>