Whats new

‘हिमालयन फारेस्ट थ्रश’ नामक चिड़िया की प्रजाति की खोज, नाम रखा जूथेरा सलीमअली

 THRUSH

वैज्ञानिकों के एक दल ने वर्ष 2016 के जनवरी माह में भारत-चीन सीमा पर चिड़िया की नई प्रजाति की खोज की है। इस प्रजाति को वैज्ञानिकों ने ‘हिमालयन फारेस्ट थ्रश’ या ‘ज़ूथेरा सलीमअली’ नाम दिया गया है।. ज्ञात हो सलीम अली भारत के प्रख्यात पक्षी वैज्ञानिक थे।

इस खोज की पुष्टि मिशिगन और उपसाला विश्विद्यालय, स्वीडन के वैज्ञानिकों ने एवियन रिसर्च नामक पत्रिका के एक अंक में प्रकाशन के माध्यम से की है। प्रारम्भ में वैज्ञानिक इसे चिड़िया की एक और प्रजाति ‘ज़ूथेरा मोलीइससीमा’ समझ रहे थे जिसका पीछे का हिस्सा ‘प्लेन ब्लैक’ होता है। परन्तु हिमालयन फारेस्ट थ्रश, ज़ूथेरा मोलीइससीमा से आवाज़ के सन्दर्भ में भिन्न है। वैज्ञानिकों का मानना है की ‘ज़ूथेरा मोलीइससीमा’ नामक चिड़िया की आवाज़ ज्यादा कठोर, और बेसुरी होती है जबकि हिमालयन फारेस्ट थ्रश की आवाज़ सुरीली है। ज्ञात हो वर्ष 1949 से अब तक भारत में सिर्फ 4 प्रजातियों को खोजा जा सका है।