Whats new
Shopping Cart: Rs 0.00

You have no items in your shopping cart.

Subtotal: Rs 0.00

Welcome to

Allauddin

रक्षा विश्वविद्यालय बनेगा झारखंड में, गुजरात, राजस्थान के बाद तिसरा राज्य

 RAKSHA

रांची के आसपास लगभग 25 एकड़ जमीन पर झारखंड शक्ति विश्वविद्यालय का निर्माण होगा। खूंटी या कांके में भवन बनाने की तैयारी है।. गुजरात व राजस्थान के बाद झारखंड तीसरा राज्य है, जहां रक्षा विवि बन रहा है। इसका ऑनलाइन शिलान्यास रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने मोरहाबादी के फुटबॉल स्टेडियम में आयोजित समारोह में किया। मुख्यमंत्री ने इसी सत्र से विवि में पढ़ाई शुरू करने की घोषणा की।

इसलिए पड़ी यूनिवर्सिटी की जरूरत
झारखंड के युवाओं का रुझान पुलिस, सेना व अन्य सुरक्षा सेवाओं की ओर रहता है। सुरक्षा विज्ञान एवं प्रबंधन क्षेत्र के शिक्षित एवं आधुनिक सूचना तकनीक का इस्तेमाल करने वाली मानव शक्ति का विकास करने के लिए विवि का गठन करने पर जोर दिया गया है। यहां युवाओं को पुलिस प्रशासन, सुरक्षा प्रबंधन, साइबर सुरक्षा, अपराध विज्ञान एवं कानून आदि की ट्रेनिंग दी जाएगी। यहां से ट्रेनिंग लेने के बाद राज्य पुलिस, केन्द्रीय पुलिस बल, तटीय सुरक्षा प्रहरी एवं अन्य सुरक्षा एजेंसियों में युवाओं को रोजगार का अवसर मिलेगा।

यह होगी खासियत?
• रक्षा विवि में सुरक्षा प्रबंधन में डिप्लोमा, स्नातक, स्नातकोत्तर जैसे पाठ्यक्रम होंगे।
• केंद्रीय सुरक्षा बल, राज्य पुलिस सेवा, प्रस्तावित झारखंड औद्योगिक सुरक्षा बल में नियुक्ति के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा।
• रक्षा शॉर्ट सर्विस कमीशन से सेवानिवृत कर्मी भी डिप्लोमा कर सकेंगे। झारखंड में होने वाली नियुक्ति में प्रोत्साहन दिया जाएगा।
• सुरक्षा बलों व जनता में बेहतर तालमेल के लिए शोध कार्य एवं कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।
• प्रत्येक वर्ष विभिन्न कोर्सों में 300 से 500 छात्रों का नामांकन होगा।
• आंतरिक सुरक्षा मामले में अत्याधुनिक प्रणाली से शोध कराया जाएगा।