Whats new

स्वच्छ भारत सेस लागू, रेलवे, हवाई सफर, होटल बिल, मोबाइल सब महंगा

Swachh Bharat cess

देशभर में 15 नहोंबर२०१५ से स्वच्छ भारत अभियान के लिए अलग से टैक्स सेस लालू हो गया है. इससे होटल, मोबाइल, जिम का बिल को महंगा हुआ ही...रेलवे और हवाई सफर की कीमत में भी इजाफा हो गया हैI देश में सेवा कर के दायरे में आने वाली सभी सेवाएं इसके दायरे में होंगीI
मोबाइल सर्वि‍स से लेकर रेल और हवाई सफर तक महंगा हो गया हैI सरकार की ओर से लगाया गया स्वच्छ भारत सेस 15 नवंबर से लागू हो रहा हैI इसके तहत सभी तरह के टैक्सेबल सर्विस पर अति‍रि‍क्‍त टैक्स लगेगाI
रेलवे ने इस बारे में एक सर्कुलर जारी कर दिया हैI सर्कुलर के मुताबिक, फर्स्ट क्लास और सभी एसी क्लास के टिकट 4.35% महंगे हो जाएंगेI कितना महंगा होगा सफर दिल्ली से मुंबई जाने वाली मेल या एक्सप्रेस ट्रेनों में एसी फर्स्ट का किराया करीब 206 रुपए बढ़ेगाI दिल्ली से हावड़ा जाने वाली इन्हीं ट्रेनों में थर्ड एसी का किराया करीब 102 रुपए बढ़ेगाI इसी तरह, दिल्ली-चेन्नई रूट पर सेकंड एसी में सफर करने पर सर्विस टैक्स और स्वच्छ भारत सेस मिलाकर 140 रुपए ज्यादा देने होंगेI फोन क्लीन इंडिया सेस का रेट 0.5% होगाI यह सेस उन सभी सर्विसेस पर लागू होगा, जिन पर अभी सर्विस टैक्स लगता हैI इससे रेल टिकट, फोन बिल, सिनेमा टिकट, होटल में खाना समेत सभी सर्विस महंगी हो जाएंगीI हालांकि जिन सर्विसेस का पेमेंट 15 नवंबर से पहले हो चुका है उनके लिए अतिरिक्त पैसे नहीं देने होंगेI यानी अगर आपने 15 नवंबर या इसके बाद रेल या हवाई यात्रा के लिए पहले से टिकट ले रखा है तो आपको ज्यादा पैसे नहीं चुकाने पड़ेंगेI
सर्विस टैक्स की ही तरह क्लीन इंडिया सेस पर भी अबेटमेंट या छूट के नियम लागू होंगेI जैसे रेस्तरां बिल में 60% हिस्से पर छूट मिलती हैI यानी बिल के 40% हिस्से पर ही सर्विस टैक्स लगता हैI यह पूरे बिल का 5.6% बैठता हैI सेस समेत यह 5.8% हो जाएगाI इसी तरह पेनाल्टी के जो नियम सर्विस टैक्स पर लागू होते हैं, वे स्वच्छ भारत सेस पर भी लागू होंगेI हालांकि सर्विस टैक्स की तरह कारोबारियों को इस पर सेनवैट क्रेडिट नहीं मिलेगाI
इस मद से आने वाले पैसे पूरी तरह से स्वच्छ भारत अभियान पर खर्च होंगेI स्वच्छ भारत सेस से आएंगे 400 करोड़ रुपए यह सेस सर्विस टैक्‍स की वर्तमान रेट 14 फीसदी के ऊपर लगेगाI इससे सरकार के पास वर्तमान फाइनेंशियल ईयर के बाकी बचे महीनों महीनों के दौरान लगभग 400 करोड़ रुपए आएंगेI