Whats new

35.8 फीसदी बढ़ा अप्रत्यक्ष कर संग्रह

tax

चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही में अप्रत्यक्ष कर संग्रह 35. 8 प्रतिशत बढ़कर 3.24 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया है. आधिकारिक सूत्रों के अनुसार पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में यह 2.38 लाख करोड़ रुपये रहा था। अप्रत्यक्ष कर संग्रह में हुयी यह बढ़ोतरी बजट अनुमान का लगभग दोगुना हो गया है। वित्त वर्ष 2014-15 की पहली छमाही में केन्द्रीय उत्पाद शुल्क संग्रह 74019 करोड़ रुपये रहा था जो चालू वित्त वर्ष की समान अवधि में बढ़कर 1.25 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया है। इसी तरह से सीमा शुल्क संग्रह भी पिछले वित्त वर्ष की पहली छमाही की तुलना में 17.5 प्रतिशत बढ़कर 1.03 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया है। सेवा कर संग्रह 24.3 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ 95493 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है।