Whats new

आठ साल में पहली बार राजकोषीय संतुलन में अधिशेष दर्ज: सीजीए

FiscalDeficit

लेखा नियंत्रक जनरल (सीजीए) ने अक्टूबर 2015 के दूसरे सप्ताह में घोषणा की कि भारत का राजकोषीय संतुलन 8 साल में पहली बार घाटे की बजाय मुनाफ़ा दर्ज किया गया है.
अगस्त 2015 में देनदारियों के अलावा राजस्व और व्यय के बीच राजकोषीय घाटे में अंतर 15,808 करोड़ रुपये रहने का अनुमान लगाया गया जो व्यय पर राजस्व का अधिशेष इंगित करता है.
पिछले वित्त वर्ष-अगस्त 2014 में इसी अवधि के दौरान सरकारी खजाने में अधिशेष राशि के कारण राजकोषीय घाटा 73005 करोड़ रुपये दर्ज किया गया.
अगस्त 2015 में कुल खर्च 131,214 करोड़ रुपए और कुल राजस्व 147,022 करोड़ रुपये था.
राजस्व प्राप्तियों में बेहतर प्रदर्शन और कुल व्यय में भारी गिरावट के कारण सरकार यह वृद्धि दर्ज कर सकी.
हालांकि वित्त वर्ष 2015-16 में 15,800 करोड़ रुपये अधिशेष राजकोषीय घाटे की भरपाई के पर्याप्त नहीं था.
अप्रैल और अगस्त 2015 के बीच संचयी राजकोषीय घाटा 3.69 लाख करोड़ रुपए था. 2014 में अप्रैल और अगस्त के दौरान 3.97 लाख करोड़ रुपए था.