Whats new

चंदामामा के संपादक बालशौरि रेड्डी नहीं रहे

balshaurireddy

जानेमाने तेलुगु एवं हिंदी साहित्यकार तथा बच्चों की पंसदीदा पत्रिका 'चंदामामा' के पूर्व संपादक बालशौरि रेड्डी का निधन हो गया. वह 87 वर्ष के थे. रेड्डी के पुत्र वेंकट रमणा रेड्डी ने बताया कि प्रख्यात लेखक का आकस्मिक निधन हो गया. उन्होंने तबीयत खराब होने की शिकायत की थी लेकिन डॉक्टर के पास जाने से पहले ही उनका निधन हो गया. बालशौरि रेड्डी का जन्म एक जुलाई 1928 को आंध्र प्रदेश के कड.पा जिला के गोल्लल गूडूर में हुआ था. ये 23 वर्ष तक चंदामामा के संपादक रहे और इस दौरान उन्होंने इस पत्रिका को नई दिशा दी. उन्होंने 100 से अधिक पुस्तकें लिखी हैं जिनमें 14 मौलिक उपन्यास, आलोचनात्मक कृतियां, अनूदित रचनाएं आदि शामिल हैं .