Whats new
Shopping Cart: Rs 0.00

You have no items in your shopping cart.

Subtotal: Rs 0.00

Welcome to

Allauddin

मुंबई को मिलेगा कोयना बांध का पानी

koyana dam

बिजली उत्पादन के बाद वशिष्ठ नदी से बहकर सीधे समुद्र जाने वाले कोयना बांध के 67.5 टीएमसी पानी को रोकने की महत्वाकांक्षी परियोजना को केंद्रीय जलसंपदा मंत्री उमा भारती ने सैद्धांतिक मंजूरी दी है. अब इस पानी का लाभ मुंबई, ठाणे, कल्याण, डोंबिवली, सिडको व कोंकण मार्ग पर आने वाले गांवों के लोगों को मिल सकेगा. इसके अलावा केंद्र सरकार की उच्चाधिकार प्राप्त समिति की बैठक में कोयना टेल रेस से मुंबई विस्तारित परियोजना की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार करने की भी सैद्धांतिक मंजूरी दी गई है. इस परियोजना में कोयना बांध के पानी का लेसमात्र भी उपयोग नहीं किया जाएगा. केवल समुद्र में बहकर जाने वाले बेकार पानी को रोककर उसका उपयोग किया जाएगा. यह जानकारी राज्य के जलसंपदा राज्यमंत्री विजय शिवतारे ने दिल्ली के महाराष्ट्र सदन में पत्रकारों को दी. उन्होंने बताया कि हर साल कोयना बांध का 67.5 टीएमसी पानी बहकर समुद्र में जाता है.