Whats new

सभी शिक्षण संस्थाओं में फहराया जाए तिरंगा

jhanda

इलाहाबाद हाईकोर्ट का आदेश हाईकोर्ट ने कहा है कि उत्तर प्रदेश की सभी शिक्षण संस्थाओं में 15 अगस्त और 26 जनवरी को अनिवार्य रूप से तिरंगा फहराया जाए. संविधान के अनुच्छेद 51ए का हवाला देते हुए अदालत ने कहा कि यह प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य है कि वह जाति, धर्र्म, लिंग आदि से ऊपर उठकर ध्वजारोहण करे. कोर्ट ने सभी शिक्षा विभागों के सचिवों को आदेश दिया है कि स्कूल-कालेजों में राष्ट्रीय पर्वों पर ध्वजारोहण कराया जाना सुनिश्चित करें. अदालत ने यह आदेश प्रदेश सरकार की ओर से दाखिल जवाब के बाद दिया. सरकार के जवाब में सिर्फ मदरसों में तिरंगा फहराए जाने संबंधी आदेश जारी किए जाने की बात कही गई थी. अलीगढ़ के अजीत गौड़ और अन्य की याचिका को निस्तारित करते हुए मुख्य न्यायमूर्ति डा. डीवाई चंद्रचूड और न्यायमूर्ति यशवंत वर्मा की खंडपीठ ने यह आदेश दिया. इससे पूर्व कोर्ट के आदेश पर प्रदेश सरकार ने हलफनामा दाखिल कर बताया कि मदरसों का संचालन अल्पसंख्यक कल्याण विभाग द्वारा किया जाता है. प्रमुख सचिव ने आदेश जारी कर निदेशक अल्पसंख्यक कल्याण और सभी जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे मदरसों में तिरंगा झंडा फहराया जाना सुनिश्चित करें. इस पर टिप्पणी करते हुए पीठ ने कहा कि सरकार ने हमारे पिछले आदेश को समझने में भूल की है.