Whats new

ईपीएफओ ने सभी नियोक्ताओं के लिए यूएएन अनिवार्य किया

 EPFO

कर्मचारी भविष्य निधि संगठनकर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) ने कर्मचारी भविष्य निधि व विविध प्रावधान कानून, 1952 के दायरे में आने वाले सभी नियोक्ताओं के लिए सर्वव्यापी खाता संख्या (यूएएन) अनिवार्य किया. यूएएन सुविधा की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 1 अक्तूबर 2014 को की गई थी. यूएएन एक ऐसी संख्या है जिसका इस्तेमाल कर्मचारी जीवन पर्यंत कर सकता है और नौकरी बदलने पर उसे पीएफ स्थानांतरण के लिए आवेदन नहीं करना पड़ेगा. औपचारिकताओं को पूरा करने के लिए 25 अगस्त 2015 की समयसीमा निर्धारित की गई है. ईपीएफओ ने जुलाई 2014 में खाताधारकों को चार करोड़ से अधिक यूएएन जारी किए और ये नंबर उसके बाद कर्मचारियों को उपलब्ध कराए गए और फिर इन्हें पैन, बैंक खातों और आधार नंबर के साथ जोड़ने की प्रक्रिया शुरू की गई. लगभग  56.34 लाख कर्मचारियों ने अपने पोर्टेबल पीएफ खाता नंबरों को सक्रिय किया. सभी खाताधारकों को अपने यूएएन नंबर को खाते में लॉग इन कर स्वयं चालू करना पड़ता है.

< < Prev Next >>