Whats new

केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय कैरियर काउंसिलिंग पोर्टल का शुभारम्भ किया

National Career Service  

सभी सरकारी रोजगार कार्यालयों के आधुनिकीकरण के उद्देश्य को पूरा करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारतीय श्रम सम्मेलन के 46वें सत्र के दौरान राष्ट्रीय कैरियर काउंसिलिंग पोर्टल की शुरुआत की.

यह पोर्टल केंद्रीय कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय के राष्ट्रीय कैरियर सेवा परियोजना के अंतर्गत शुरू किया गया है.

यह वेब पोर्टल नौकरी प्रदाताओं और रोजगार इच्छुक लोगों के लिए एकल मंच प्रदान करेगा. इस पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीकरण के माध्यम से इसकी सेवा का लाभ लेना संभव होगा.

पोर्टल की मदद से पर 900000 प्रतिष्ठानों और कंपनियों को लोगों से जोड़ा जाएगा. विदित हो वर्तमान में 44.7 अरब रोजगार इच्छुक लोग भारत के 956 रोजगार कार्यालयों में पंजीकृत हैं. आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार इनमें 26.88 पुरुष और महिलाएँ 29 साल से कम उम्र के हैं.

विदित हो राष्ट्रीय कैरियर सेवा(एनसीएस) परियोजना का उद्देश्य सभी सरकारी रोजगार कार्यालयों का विकास करना है.

पोर्टल के बारे में -

पोर्टल का उद्देश्य देश के सभी रोजगार कार्यालयों में पंजीकृत करीब 20 लाख रोजगार इच्छुक लोगों को एकल मंच प्रदान करना है.

पोर्टल पर पंजीकरण निःशुल्क होगा.

दुरुपयोग से बचने के लिए पोर्टल में पंजीयन करते समय आधार संख्या को एक अनिवार्य भाग के रूप में शामिल किया गया है. अतः आवेदनकर्ता को  पंजीकरण करते समय अपनी आधार संख्या डालनी होगी.

इसी तरह से रोजगार पोर्टल के पैनल में शामिल होने वाली कंपनियों और संगठनों को सोसाइटी पंजीकरण या कंपनी पंजीकरण के प्रमाण पत्र की प्रतियां प्रस्तुत करना आवश्यक होगा.

भारत में करीब 982 रोजगार कार्यालय हैं पहले चरण में इनमें से 100 कार्यालयों के आधुनिकीकरण की योजना है और इसके लिए 190 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की गई है.

रोजगार कार्यालय अब परामर्श केंद्र के रूप में भी कार्य करेंगे इसके लिए रोजगार कार्यालयों में केंद्र स्थापित किए जाएंगे इसके अतिरिक्त हेल्पलाइन नंबर के माध्यम से परामर्श सेवा भी प्रदान की जागी.

 

Next >>