Whats new

नहीं होगी 17,000 कांस्टेबलों की भर्ती

नहीं होगी 17,000 कांस्टेबलों की भर्ती

ऑनलाइन पोस्ट के फर्जी होने का रेलवे ने किया दावा

एजेंसियां

दिल्ली : रेलवे में बड़े पैमाने पर कांस्टेबलों की भर्ती संबंधी भ्रामक विज्ञापन पर रेल मंत्रालय ने स्पष्टीकरण दिया है. रेल मंत्रालय ने रेल सुरक्षा बल (आरपीएफ/आरपीएसएफ) में 17,000 कांस्टेबलों की भर्ती के संबंध में कुछ वेबसाइटों पर दिखाए जा रहे विज्ञापनों पर स्थिति साफ की है. रेल मंत्रालय ने कहा है कि ऐसा कोई विज्ञापन रेलवे ने नहीं दिया है. ऑनलाइन दिख रहे ऐसे पोस्ट फर्जीहैं.

रेलवे ने इस संबंध में स्पष्ट करते हुए कहा कि न तो ऐसा कोई विज्ञापन जारी किया गया है और न ही रेलवे की तरफ से दिया जा रहा है. साथ ही यह सलाह दी जाती है कि ऐसे विज्ञापन भ्रामक हैं और उन्हें नजरअंदाज किया जाए. रेलवे ने कहा कि रेलवे सुरक्षा बल/रेलवे सुरक्षा विशेष बल में 1,599 महिला कांस्टेबलों की भर्ती संबंधी विज्ञापन अभी विचाराधीन है और इसे रोजगार समाचारों, राष्ट्रीय स्तर के दैनिक समाचार पत्रों और रेलवे की आधिकारिक वेबसाइट पर अधिसूचित किया जाएगा. यह वेबसाइट www.indianrailways.gov.in है.


पाठकों को सलाह

साप्ताहिक 'रोजगार नोकरी संदर्भ' और युवा करियर के लिए समाचार संकलन का कार्य कई प्रकार की वेबसाइट और समाचार पत्रों से किया जाता है. जांच-पड़ताल के बाद पूर्णत: सावधानी बरतते हुए ही साप्ताहिक 'रोजगार नोकरी संदर्भ', युवा करियर में समाचार प्रकाशित किया जाता है. इसके बावजूद पाठकों को यही सलाह दी जाती है कि नौकरी के आवेदन संबंधी किसी भी प्रकार का आर्थिक व्यवहार करने से पूर्व एक बार संबंधित विभाग की आधिकारिक वेबसाइट अथवा www.allauddin.co.in पर पुन: आवेदन संबंधी जानकारी जांच लें. 'रोजगार नोकरी संदर्भ', युवा करियर समाचार पत्र साप्ताहिक होने की वजह से किसी भी प्रकार की जानकारी पाठकों तक पहुंचाने के लिए हमें एक सप्ताह का इंतजार करना पड़ता है. ऐसे में पाठकों को धोखाधड़ी से बचाने के लिए और उन तक नवीनतम जानकारी पहुंचाने के लिए ही www.allauddin.co.in पर 'व्हॉट्स न्यू कॉलम' में नई जानकारी अपडेट कर दी जाती है.


पहले भी हो चुके हैं फर्जीवाड़े

वर्ष 2014 में कई सरकारी कार्यालयों की नकली वेबसाइट बनाकर फर्जीवाड़ा करने की कोशिशें की जा चुकी हैं. इसके अलावा कई लोग आपको सरकारी नौकरी लगवा देने का दावा भी करते हैं. पाठकों से यही अपेक्षा की जाती है कि ऐसे सभी मामलों में अपनी विवेक बुद्घि का इस्तेमाल करें. ध्यान रखें कि आसानी से मिलने वाली कोई भी चीज धोखाधड़ी के द्वार तक ले जा सकती है.

 

Share